जीवन बीमा: गैर-जीवन बीमाकर्ता सेप्ट में 22,775 करोड़ रुपये की प्रीमियम आय में लगभग 6 पीसी की गिरावट देखते हैं

नई दिल्ली: गैर-जीवन बीमा कंपनियों ने चालू माह में सितंबर के दौरान सकल प्रीमियम आय में 5.55 प्रतिशत की गिरावट के साथ 22,774.60 करोड़ रुपये की गिरावट दर्ज की राजकोषीय इरडी के आंकड़ों के अनुसार वर्ष।

पिछले वित्त वर्ष 2019-20 के इसी महीने में 34 गैर-जीवन बीमा कंपनियों ने 24,111.78 करोड़ रुपये की प्रीमियम आय प्राप्त की थी।

बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण (इरडी) के आंकड़ों के अनुसार, सार्वजनिक क्षेत्र के बीमाकर्ताओं ने सितंबर वित्त वर्ष में सकल प्रीमियम संग्रह में 6.08 प्रतिशत की गिरावट के साथ सितंबर, 2015 में 10,959.88 करोड़ रुपये की गिरावट देखी, जबकि एक महीने पहले 11,669.43 करोड़ रुपये थे।

निजी क्षेत्र के गैर-जीवन बीमा खिलाड़ियों ने सितंबर 2020 में प्रीमियम में 5.04 प्रतिशत की गिरावट के साथ 11,814.71 करोड़ रुपये की गिरावट दर्ज की, जो एक साल पहले 12,442.35 करोड़ रुपये थी।

हालांकि, सात स्टैंडअलोन स्वास्थ्य बीमाकर्ता गैर-जीवन बीमा कंपनियों के बीच एक साल पहले 1,118.24 करोड़ रुपये से महीने के दौरान प्रीमियम आय में 38.04 प्रतिशत की छलांग 1,543.62 करोड़ रुपये दर्ज की गई थी।

34 गैर-जीवन बीमा खिलाड़ियों द्वारा 2020-21 की अप्रैल-सितंबर अवधि के दौरान कुल प्रीमियम 1.37 प्रतिशत बढ़कर 96,831.5 करोड़ रुपये हो गया।

2019-20 की इसी अवधि में उनकी सकल प्रीमियम आय 95,526.89 करोड़ रुपये थी।

वित्त वर्ष की अप्रैल-सितंबर अवधि में सार्वजनिक क्षेत्र के बीमा कंपनियों का संचयी प्रीमियम 0.86 प्रतिशत बढ़कर 43,347.49 करोड़ रुपये हो गया।

निजी क्षेत्र के बीमाकर्ताओं ने अप्रैल-सितंबर के दौरान अपने संचयी प्रीमियम संग्रह में 53,484.06 करोड़ रुपये की 1.78 प्रतिशत की वृद्धि देखी।

इस अवधि के दौरान स्टैंडअलोन स्वास्थ्य बीमाकर्ताओं का संचयी प्रीमियम 28.10 प्रतिशत बढ़कर 7,812.39 करोड़ रुपये हो गया।

Supply hyperlink